माँ दुर्गा के 108 नाम व उनके अर्थ| Devi Durga Ke 108 Naam

माँ दुर्गा, भगवान शिव जी की पत्नी पार्वती जी का ही स्वरूप हैं। हिन्दू धर्म में देवी दुर्गा को ब्रह्माण्ड की सर्वोच्च व परमशक्ति माना जाता है। भगवती दुर्गा के…

Continue Reading माँ दुर्गा के 108 नाम व उनके अर्थ| Devi Durga Ke 108 Naam

Saraswati Mantra : सरस्वती मां के मंत्र, उनके प्रयोग, लाभ

मां भगवती महामायी देवी सरस्वती वाणी की अधिष्ठात्री देवी हैं। इनकी आराधना, अर्चना, पूजा तथा स्तवन से व्यक्ति सारस्वत बनता है और समाज तथा राष्ट्र का मार्ग दर्शन करता है।…

Continue Reading Saraswati Mantra : सरस्वती मां के मंत्र, उनके प्रयोग, लाभ

Mahamrityunjaya Mantra : संपूर्ण महामृत्युंजय मंत्र, जप विधि, अर्थ

महामृत्युंजय मंत्र के जाप से मनुष्य के जीवन के कई व्याधियां अपने आप दूर हो जाते हैं। भगवान शिव का बहुत प्रिय मंत्र महामृत्युंजय है। 1100 बार महामृत्युंजय मंत्र का…

Continue Reading Mahamrityunjaya Mantra : संपूर्ण महामृत्युंजय मंत्र, जप विधि, अर्थ

महादेव शिव जी के 108 नाम | Shiv Ji Ke 108 Naam

महादेव शिव जी के 108 नाम - महादेव शिव जी का स्थान सभी देवों में सबसे ऊंचा माना गया है। भोलेनाथ बड़े ही भोले और दयालु भगवान हैं। सिर्फ एक…

Continue Reading महादेव शिव जी के 108 नाम | Shiv Ji Ke 108 Naam

माँ सरस्वती के 108 नाम व मंत्र : maa saraswati ke 108 naam

माँ सरस्वती के 108 नाम व मंत्र (maa saraswati ke 108 naam) - माघ शुक्ल पंचमी अर्थात बसंत पंचमी को देवी सरस्वती की हर वर्ष विशेष पूजा अर्चना की जाती है।…

Continue Reading माँ सरस्वती के 108 नाम व मंत्र : maa saraswati ke 108 naam

श्री गणेश जी के 108 नाम

भगवान श्री गणेशजी हिन्दू धर्म में प्रथम पूजनीय माने जाते है। गणेश जी को भगवान शिव जी ने आशीर्वाद दिया था कि प्रत्येक शुभ कार्य से पहले सर्वप्रथम भगवान गणेश…

Continue Reading श्री गणेश जी के 108 नाम

गायत्री मन्त्र एवं उसका अर्थ

गायत्री मंत्र ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्। भावार्थ - उस प्राणस्वरूप, दुःखनाशक, सुखस्वरूप, श्रेष्ठ, तेजस्वी, पापनाशक, देवस्वरूप परमात्मा को हम अन्तःकरण में धारण करें।…

Continue Reading गायत्री मन्त्र एवं उसका अर्थ