श्याम चूड़ी बेचने आया | Shyam Choodi Bechne Aaya

मनिहारी का भेस बनाया, श्याम चूड़ी बेचने आया। छलिया का भेस बनाया, श्याम चूड़ी बेचने आया॥ झोली कंधे धरी, उस में चूड़ी भरी। गलिओं में सोर मचाया, श्याम चूड़ी बेचने…

Continue Reading श्याम चूड़ी बेचने आया | Shyam Choodi Bechne Aaya

पूजनीय प्रभु हमारे भाव उज्जवल कीजिये

भजन पूजनीय प्रभु ! हमारे भाव उज्जवल कीजिये। छोड़ देवें छल-कपट को मानसिक बल दीजिये।। वेद की बोलें ऋचाएँ सत्य को धारण करें। हर्ष में हों मग्न सारे शोक-सागर से तरें…

Continue Reading पूजनीय प्रभु हमारे भाव उज्जवल कीजिये

उठ जाग मुसाफिर भोर भई

उठ जाग मुसाफिर भोर भई, अब रैन कहाँ जो सोवत है। जो जागत है सो पावत है, जो सोवत है सो खोवत है।। टुक नींद से अखियाँ खोल जरा, और…

Continue Reading उठ जाग मुसाफिर भोर भई