You are currently viewing Shri Goverdhan Maharaj Aarti | श्री गोवर्धन महाराज आरती

Shri Goverdhan Maharaj Aarti | श्री गोवर्धन महाराज आरती

कृपया शेयर करें -

श्री गोवर्धन महाराज आरती

श्री गोवर्धन महाराज, ओ महाराज,
तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ।
॥ श्री गोवर्धन महाराज…॥

तोपे पान चढ़े, तोपे फूल चढ़े,
तोपे चढ़े दूध की धार।
॥ श्री गोवर्धन महाराज…॥

तेरे गले में कंठा साज रेहेओ,
ठोड़ी पे हीरा लाल।
॥ श्री गोवर्धन महाराज…॥

तेरे कानन कुंडल चमक रहेओ,
तेरी झांकी बनी विशाल।
॥ श्री गोवर्धन महाराज…॥

तेरी सात कोस की परिकम्मा,
चकलेश्वर है विश्राम।
॥ श्री गोवर्धन महाराज…॥

तेरे माथे मुकुट विराज रहेओ॥
गिरिराज धारण प्रभु तेरी शरण।
करो भक्त का बेड़ा पार।
श्री गोवर्धन महाराज…॥

गोवर्धन महाराज की जय… 

अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर या कॉमेंट जरूर करें।
(कुल अवलोकन 123 , 1 आज के अवलोकन)
कृपया शेयर करें -